Health Benefits Of Red Carrot Juice

Red Carrot Juice Benefits : –

रस निकालने की विधि : गाजर को पत्थर पर पीस कर रस निकाला जा सकता है | लोहे की छलनी में गोल छेद करके उल्टी तरफ गाजर को रगड़े | रगड़ने से गाजर बुरादे की तरह हो जाएगी | इसे कपड़े में रखकर निचोड़ने से रस निकल आता है | ऐसी छलनी और रस निकालने की मशीन बाजार में मिलती है |  250 ग्राम गाजर के रस में 50 ग्राम पालक का रस थोड़ा-सा नींबू का रस मिलाने से गाजर का रस स्वादिष्ट बन जाता है | यह कब्ज दूर करता है और प्रभावशाली बन जाता है | इसमें नमक नहीं मिलाना चाहिए |

गाजर का रस (Red Carrot Juice) पीना बहुत लाभदायक है | गाजर के रस का एक गिलास पूर्ण भोजन है |एक बार में एक ही गिलास पीयें, ज्यादा नहीं | इसका रस लगाकर पीने से शरीर के दूषित और विषैले पदार्थ बाहर निकल आते हैं | बड़े-बड़े असाध्य रोग, कैंसर का कभी दूर हो जाते हैं | गाजर के अनेक गुणों को देखते हुए इसे गरीबों का सेब कह सकते हैं अर्थात जो लोग सेव नहीं खा सकते,  गाजर खा कर उतना ही लाभ उठा सकते हैं | इसे रक्त की कमी ठीक हो जाती है | गाजर का रस पर्याप्त मात्रा में लेने से शरीर मोटा, ताजा और बलवान हो जाता है |

विटामिन्स : गाजर के रस (Carrot Juice) में विटामिन ‘A’ सर्वाधिक मिलता है |  विटामिन B,C,D,E,G और K भी मिलते हैं | गाजर के रस में सोडियम, पोटाशियम,  कैल्शियम, मैग्नेशियम तथा लौह तत्व होते हैं | गाजर से नर्वस सिस्टम की रक्षा होती है |

स्नायुविक शक्तिवर्धक :  गाजर (Carrot) में संतुलित भोजन के तत्व होते हैं |  इसमें अनिद्रा रोग दूर हो जाता है | थकान दूर होती है |  मानसिक, शारीरिक स्नायुविक शक्ति पैदा होती है | जीवन में उमंग, साहस, शक्ति उत्पन्न होती है | रक्त की कमी दूर हो जाती है, वजन बढ़ जाता है | गाजर हर व्यक्ति के लिए शक्तिवर्धक टॉनिक है | बुढ़ापे में भी जवानों जैसी शक्ति का अनुभव होता है | मर्दाना कमजोरी को दूर करने में रामबाण है | वीर्य को गाढ़ा करती है | पित्त प्रकृति वालों की काम शक्ति बढ़ाती है; सुजाक ठीक करती है | दमा और क्षय रोग में  उपकारी है | इससे विभिन्न रोगों से बचा जा सकता है | रक्त-संचार की गड़बड़ियां ठीक हो जाती हैं |

गाजर का हलवा बनाकर खिलाने से कमजोरी मिटकर  पुरुषार्थ बढ़ता है | रक्त पैदा करती है; मस्तिष्क को शक्ति देती है | हृदय की अधिक धड़कन में लाभ करती है,  मूत्र लाती है | गाजर का हलवा स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है | लगातार दो महीने गाजर का हलवा खाने से स्मरण शक्ति बढ़ती है |  गाजर में शरीर को स्वस्थ रखने वाले समस्त तत्व होते हैं |गाजर में लोहे की मात्रा अधिक होती है | गाजर को लोहा शीघ्र पच कर रक्त में मिल जाता है |  गाजर का रस पीने से दांत, आंख, दाद, खुजली आदि चर्म-रोगों में लाभ होता है |

स्मरण-शक्तिवर्धक : प्रांत: सात  बादाम खाकर ऊपर से सवा-सौ ग्राम गाजर का रस आधा किलो गाय के दूध में मिलाकर पीने से स्मरण शक्ति बढ़ती है |

नेत्र शक्तिवर्धक : गाजर (Red Carrot) में विटामिन ‘A’ होने से इसका रस आंखों की कमजोरी, रतौंधी का अर्थात रात में ना दिखना दूर करता है और बुढ़ापे में भी बिना ऐनक पढ़ सकते हैं | नेत्र ज्योति बढ़ती है |



,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *