Chaulai : चौलाई खाने के किया फायदे हो सकते है जानिए

चौलाई खाने के किया फायदे हो सकते है जानिए

लेटिन नाम – एमारेन्थस विरिडिस (Amaranthus viridis)

चौलाई का रस (Chaulai juice) गठिया, ब्लडप्रेशर और हृदय के रोगियों के लिए लाभदायक है | इसकी सब्जी भी खाई जा सकती है | पेट के रोग, कब्ज और बाल गिरने चौलाई की सब्जी खाना लाभदायक है |

पथरी : चौलाई (Chaulai) के पत्तों का साग नित्य खाते रहने से पथरी गल जाती है | रक्तचाप, बलगम, बवासीर, गर्मी के दुष्यप्रभाव चौलाई की सब्जी नित्य खाने से ठीक हो जाते हैं |

पागल कुत्ते के काटने के बाद व्यक्ति जब पागल हो जाये, स्वयं ही दूसरों को काटने लगे, एसी अवस्था में काँटे वाली जंगली चौलाई की जड़ 50 ग्राम से 125 ग्राम तक पीस कर पानी में घोल कर बार-बार पिलाने से मरता हुआ रोगी बच जाता है | यह विष-नाशक है | हरेक दंश पर लेप करें |

चौलाई (Chaulai) का शाक रुखा होता है | चौलाई का शाक नशा और विष के प्रभाव को नष्ट करता है | रक्तपित्त में लाभदायक है |

आंखों के लिए

आंखों के स्वास्थ्य के लिए विटामिन ‘A’ काफी महत्वपूर्ण होता है | चौलाई में विटामिन भरपूर मात्रा में पाई जाती है | इसलिए चौलाई हमारी आंखों में होने वाले संक्रमण और तमाम धब्बे, दाग, अधः पतन और मोतियाबिंद के जोखिम को भी कम करता है |

बालों के लिए

चौलाई में लाइसिन नाम का एक अमीनो एसिड पाया जाता है | जिसका उत्पादन हमारे शरीर में नहीं हो पाता है. इस अमीनो इस अमीनो एसिड की खासियत यह है कि यह कैल्शियम की दक्षता में सुधार करके बालों को मजबूती प्रदान करता है |  इससे आपके बाल कम झड़ते हैं | इसके अलावा आप चौलाई का उपयोग शैंपू, बालों में मालिश आदि के लिए भी कर सकते हैं | इससे आपके बाल लंबे घने खूबसूरत और मजबूत होते हैं | 

 

,

1 thought on “Chaulai : चौलाई खाने के किया फायदे हो सकते है जानिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *