Cigarette : धुम्रपान या सिगरेट पीने वालों की यौन शक्ति में कमी

धुम्रपान या सिगरेट (Cigarette) पीने वालों की यौन शक्ति में कमी जा विपरीत प्रभाव जानिए

धुर्मपान (Smoking)

यौनशक्ति में कमी : विश्विख्यात चिकित्सक एवं यौनशास्त्री डा. इशरफील्ड के अनुसार अत्यधिक धुम्रपान परुषों के यौन-क्रियाकलापों पर घातक प्रभाव डालता है | डा. इशरफील्ड ने अपनी पुस्तक ‘सेक्सुअल पैथोलोजी’ में लिखा है कि अत्यधिक धुम्रपान (Smoking) नपुंसकता का कारण बन सकता है | उन्होंने सिगरेट (Cigarette) छुड़ा कर कई नपुंसक रोगियों को काम-समर्थ बनाया है | धुम्रपान से रक्त की सरंचना पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है | इससे शरीर में स्थित यौन हारमोन उचित क्रिया नहीं कर सकते |

सिगरेट (Cigarette)

यौन शक्ति पर विपरीत प्रभाव : जयपुर 1-1-1980 (क्राप) | डाक्टर वीरेन्द्रसिंह चर्म व् यौन रोग विशेषज्ञ ने सिद्ध किया है कि नियमित रूप से 10 सिगरेट (Cigarette) या अधिक सेवन 6-12 माह तक करने पर यौन शक्ति में कमी हो जाती है | इसके अलावा हृदय, श्वसन व् नाड़ी की गर्मी सामान्य से अधिक हो जाती है |

सिगरेट (Cigarette) का एक पैकट प्रतिदिन पीने से 7 वर्ष एंव दो पैकेट पीने से 12 वर्ष आयु घटती है |

Smoking

Deficiency in Sex: According to noted physician and jurist Dr. Isherfield, excessive smoking has a fatal effect on the sexual activity of fissures. Dr Isherfield has written in his book ‘Sexual Pathology’ that smoking can cause impotence. They have emptied many neutral patients by reducing cigarette. Smoke has adverse effects on the structure of blood. It can not do proper functioning of sexual hormones in the body.

Cigarette

Contrary to sexual power : Jaipur 1-1-1980 (Crop) | Doctor Virendra Singh Charm and Disease specialist have proven that sexual harassment decreases on 10 cigarette or more intake by 6-12 months on a regular basis. In addition, the heat of the heart, respiration and pulse exceeds normal.

Due to drinking a pack of cigarette daily every day, taking 7 years and two packets reduces the age of 12 years.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *